Friday, March 13, 2009

जीवन स्तम्भ

१) ज्ञान
२) sheestachaar या byavahaar teeno को satyug, tretayug,aur dyapar se..........
३) परिश्रम
ज्ञान, byavahaar ,परिश्रम, को हम atit से लेते है jaha गौतम बुद्ध satya व ज्ञान की खोज me niklate है ,
sheetachar मर्यादा pursottam ram की रामायण है,
vahi karm ही पूजा है , bhagwan कृष्ण की amar कथा है , यदि जीवन स्तम्भ नही है to vikalp है जो सभी karyo के लिए होते है ,

No comments:

Post a Comment